Hindu Festivals · Hindu Gods · Religion

Diwali Puja 2021

Deepavali Lagna Puja on Thursday, November 4, 2021 Vrishchika Lagna Muhurat (morning) - 07:36 AM to 09:55 AM Duration - 02 Hours 19 Mins Kumbha Lagna Muhurat (afternoon) - 01:41 PM to 03:08 PM. Duration - 01 Hour 27 Mins Vrishabha Lagna Muhurat (evening) - 06:09 PM to 08:04 PM Duration - 01 Hour 56 Mins Simha Lagna Muhurat (midnight) - 12:39 AM to 02:44 AM, Nov 05. Duration - 02 Hours 04 Mins Amavasya Tithi Begins - 06:03 AM on Nov 04, 2021. Amavasya Tithi Ends - 02:44 AM on Nov 05, 2021 2021 Lagna Muhurat for Lakshmi Puja Most of the religious books Dharma Sindhu, Nirnaya Sindhu… पढ़ना जारी रखें Diwali Puja 2021

Hindu Festivals · Hindu Gods

Goga Navami 2021 is on August 31

विक्रमी संवत के माह भाद्रपद की कृष्ण पक्ष की नवमी को गुग्गा नवमी मनाई जाती है. गुग्गा नवमी इस वर्ष 31 अगस्त 2021 को मनाई जाएगी. गुग्गा नवमी के दिन नागों की पूजा करते हैं मान्यता है कि गुग्गा देवता की पूजा करने से सांपों से रक्षा होती है. गुग्गा देवता को सांपों का देवता… पढ़ना जारी रखें Goga Navami 2021 is on August 31

Hindu Festivals · Hindu Gods · Religion

Nag panchami 2021

सावन मास हिंदू धर्म में विशेष स्थान महत्व रखता है। इस मास में कई महत्वपूर्ण पर्व पड़ते हैं। उन्हीं में से नाग पंचमी का पर्व है। इस पर्व को सावन मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। नाग पंचमी के दिन नाग देवता की पूजा पूरे विधि विधान से किया जाता… पढ़ना जारी रखें Nag panchami 2021

Hindu Gods

Powerful benefits of Hanuman Chalisa

Hanuman Chalisa was written by Tulsidas a saint in 1497 -1623. it is a set of 4o poetry verses for Lord Rama worship. It’s believed by all Hinduism that chanting Hanuman Chalisa benefits can ward off negative energy. Since childhood, we have been taught that if you feel disturbed or afraid of anything, then read Hanuman Chalisa.… पढ़ना जारी रखें Powerful benefits of Hanuman Chalisa

Hindu Gods

विष्णु सहस्रनाम में वर्णित है श्रीहरि विष्णु के 1,000 नाम

ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नम:   ॐ विश्वं विष्णु: वषट्कारो भूत-भव्य-भवत-प्रभुः ।भूत-कृत भूत-भृत भावो भूतात्मा भूतभावनः ।। 1 ।।  पूतात्मा परमात्मा च मुक्तानां परमं गतिः।अव्ययः पुरुष साक्षी क्षेत्रज्ञो अक्षर एव च ।। 2 ।।  योगो योग-विदां नेता प्रधान-पुरुषेश्वरः ।नारसिंह-वपुः श्रीमान केशवः पुरुषोत्तमः ।। 3 ।।  सर्वः शर्वः शिवः स्थाणु: भूतादि: निधि: अव्ययः ।संभवो भावनो भर्ता प्रभवः… पढ़ना जारी रखें विष्णु सहस्रनाम में वर्णित है श्रीहरि विष्णु के 1,000 नाम