Hindu Gods · Hinduism · Religion

हनुमान जी को प्रसन्न करने के उपाय 

Lord-Hanuman

श्री हनुमान जी श्रीराम परम भक्त है जो की विष्णु भगवान के अवतार थे | वे स्वयं शिवजी के रूद्र अवतार है | उनकी पूजा से शिव और श्री विष्णु दोनों की कृपा प्राप्त होती है | हनुमान जी को आठ चिरंजीवी में से एक माना जाता है | इनके बारे में हनुमान चालीसा में बताया गया है की , भूत पिशाच निकट नही आवे , महाबीर जब नाम सुनावे | अर्थात इनके स्मरण से ही भूत प्रेत भाग खड़े होते है | हनुमान जी के मंत्रो का आप जिस जगह जाप करेंगे , हनुमान जी वही पर सुरक्षा कवच बनाकर अपने भक्तो की रक्षा करेंगे |

जाप विधि

शुक्ल पक्ष के पहले मंगलवार से जाप आरंभ करें। हनुमान जी के प्रतिष्ठित श्री स्वरूप अथवा चित्रपट के सामने लाल आसन पर बैठें, शुद्घ गाय के घी का दीपक अर्पित करें, लाल चंदन की अथवा मूंगे की माला पर प्रतिदिन 11 माला 40 दिन तक करने से सिद्धियां प्राप्त होती हैं।

मंत्र ~~  ऊँ हुँ हुँ हनुमतये फट्।
इस मंत्र का कम से कम 10,000 बार जप करने से लाभ प्राप्त होता है। इसके साथ-साथ दशांस हवन करने से महालाभ प्राप्त होता है।

हनुमान साधाना के दौरान रखें ध्यान 
  • ब्रह्मचर्य का पालन करें। मन , शरीर और सोच शुद्ध होनी चाहिए |
  • तामसिक भोजन से दूर रहे |
  • हनुमान जी की प्रतिमा के निचे लाल कपड़ा बिछाकर पंचोपचार पूजन  या षोडशोपचार पूजन विधि से अर्चना करे |
  • नित्य सही समय पर शुद्ध होकर मंत्र का जाप करे |
  • साधना काल में किसी पे क्रोध या किसी के गलत बात ना बोले |

हनुमान जी को खुश करना बड़ा आसान है | पूजा में हम यदि थोडा सा इन बातो का ध्यान रखे ले , तो शीघ्र ही हनुमान अपनी कृपा बरसाते है | हनुमान जी हमें हर सुख दे पाने की शक्ति रखते है चाहे वो वैभव , विद्या , अर्थ , यश या अन्य किसी भी रूप में हो |

हनुमान को प्रसन्न करने के उपाय
  • चमेली और सिंदूर का चोला : मंगलवार या शनिवार को हनुमान मंदिर में जाकर आप इन्हे सिंदूर और चमेली के तेल का चोला चढ़ाये |
  • पान पत्तो की माला : हनुमानजी को आप पान के पत्तो से बनी माला पहना कर भी प्रसन्न कर सकते है |
  • पीपल के पत्तो की माला जिसपे लिखा हो राम नाम : हनुमान मंदिर में जाकर पीपल के पत्तो की माला हनुमान जी को पहनाये | इस माला के हर पत्ते पर श्री राम का नाम लिखा हो | राम नाम की माला से अति शिघ्र  प्रसन्न होते है महाबली हनुमान |
  • हनुमान को प्रिय भोग : हनुमान को गुड चन्ने ,केले और लड्डू का भोग अति प्रिय है | यह प्रसाद बंदरो को भी खिलाने से बालाजी प्रसन्न होते है |
  • लौंग : बालाजी को लौंग अर्पित करके भी खुश किया जाता है |
  • हनुमान चालीसा का पाठ : हनुमान चालीसा में चमत्कारी चौपाइयाँ है जिसमे श्री राम और हनुमान की महिमा का गुणगान होता है | आप नियमित यह पाठ पढ़कर हनुमान कृपा के पात्र बन सकते है | यह बात बार बार सिद्ध हो चुकी है की हनुमान चालीसा पाठ के लाभ बहुत सारे है |
  • श्री राम शास्त्र : रामायण और रामचरितमानस की चौपाइयाँ भी पढने से बालाजी की असीम कृपा की प्राप्ति होती है |
  • 12 नामावली : हनुमान जी के 12 चमत्कारी नाम जो उनके चरित्र को प्रकट करते है , इन नामो का जाप करने से भी आप कृपा के पात्र बनते है |हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए यह नित्य पढ़े |
  • घी और आटे का रोट : सवा किलो का एक आटे का रोट सेककर तैयार करे | फिर इसके ऊपर घी डाले और चीनी के साथ तुलसी पत्ते डाले | किसी नजदीक मंदिर में जाकर यह बालाजी महाराज को भोग चढ़ाये | हनुमान जी के मंत्रो का जाप करे | फिर इस रोट के टुकड़े करके गायो को खिला दे |
  • श्री राम की भक्ति : हनुमान जी को श्री राम का सेवक कहा जाता है | आप जितनी ज्यादा भक्ति श्री राम की करेंगे , उतना ही हनुमद कृपा के पात्र बनेंगे |
Border Pic

Leave a Reply