Astrology · Hinduism · Religion

पदोन्नति के उपाय

Promotion

 

नौकरी में प्रमोशन के उपाय जानने वाले जातकों के लिए यह लेख वरदान साबित होगा। इस लेख में हम आपको नौकरी में तरक्की पाने के सरल उपाय दे रहे हैं। नौकरी पेशा से जुड़े लोगों को हर साल पदोन्नति और वेतन वृद्धि का इंतज़ार रहता है। सालभर बेहतर प्रदर्शन और मेहनत करने पर प्रमोशन और सैलरी इंक्रीमेंट मिलने से नौकरी करने वाला हर व्यक्ति खुश होता है, लेकिन कई बार ऐसा होता है कि जॉब कर रहे जातकों को उनकी मेहनत का फल नहीं मिलता है। उनके प्रमोशन में किसी न किसी प्रकार की रुकावट या बाधा देखने को मिलती है। ऐसे लोगों के लिए वैदिक ज्योतिष में नौकरी में तरक्की के उपाय बताए गए हैं। इन उपायों के माध्यम से नौकरी कर रहे जातक आसानी से अपनी मेहनत का फल प्रमोशन और इंक्रीमेंट के रूप में प्राप्त कर सकते हैं। आइए जानते हैं नौकरी में तरक्की पाने के टोटके।

ज्योतिषीय दृष्टिकोण

वैदिक ज्योतिष में दशम भाव कर्म का भाव होता है। इस भाव से हमें नौकरी और व्यवसाय का बोध होता है। इसके अलावा दशम भाव और दशम भाव का स्वामी सांसारिक जीवन में हमारे प्रदर्शन के बारे में सूचित करता है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार कई ग्रह दशम भाव के लिए लाभकारी होते हैं और शुभ फल देते हैं। इनमें सूर्य कार्य क्षेत्र में हमारे लक्ष्य और महत्वाकांक्षा का कारक होता है। मंगल ग्रह हमारी व्यावसायिक आकांक्षा की पूर्ति के लिए ऊर्जा प्रदान करता है और बेहतर प्रयासों के लिए प्रेरित करता है। वहीं बुध ग्रह बुद्धि और ज्ञान का कारक होता है इसलिए बुध के प्रभाव से कार्य क्षेत्र में उन्नति मिलती है। बृहस्पति यानि गुरु की कृपा से नौकरी और व्यवसाय में कई अच्छे अवसर प्राप्त होते हैं, साथ ही करियर के क्षेत्र में बढ़ोत्तरी होती है। इसके अलावा शनि देव जिन्हें कर्म अधिकारी कहा जाता है। वे हर मनुष्य को उसके कर्म के आधार पर शुभ फल और दंड देते हैं। काल पुरुष राशि चक्र में शनि स्वयं दशम भाव के स्वामी हैं। इस वजह से शनि देव कर्म और कार्य क्षेत्र में मनुष्य को अनुशासन, समर्पण और प्रतिबद्धता के लिए प्रेरित करते हैं।

कुंडली में दशम भाव के स्वामी और दशम भाव के पीड़ित रहने से हमारी प्रोफेशनल लाइफ में परेशानियां आती हैं। जब कोई क्रूर ग्रह दशम भाव में स्थित रहकर अशुभ फल देता है तो इसके परिणामस्वरुप नौकरी और व्यवसाय में समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसे में जॉब मिलने में देरी, नौकरी से निकाला जाना, पदोन्नति नहीं होना, जॉब को लेकर असंतुष्ट रहना और करियर में तमाम तरह की परेशानी देखनी पड़ती है। जन्म कुंडली के अध्ययन से इस बात का पता लगाया जा सकता है।

नौकरी में प्रमोशन पाने के ज्योतिषीय 

  1. कुंडली में दशम भाव के स्वामी से संबंधित मंत्रों का जप करना चाहिए।
  2. यदि जातक विभिन्न ग्रहों के दुष्प्रभाव से पीड़ित रहता है तो भी नौकरी में परेशानी आती है। इसके निराकरण लिए घर पर नवग्रह हवन या मंदिर में नवग्रह अभिषेक करवाना चाहिए। इसके प्रभाव से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है और सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। नवग्रह हवन व अभिषेक से राहु-केतु के दोषों से भी मुक्ति मिलती है।
  3. सूर्योदय के समय सूर्य देव को जल चढ़ाएं और गायत्री मंत्र या सूर्य मंत्र का जप करें। ऐसा करने से व्यावसायिक जीवन में उन्नति होती है। सूर्य के प्रभाव से मिलने वाली सकारात्मक ऊर्जा मनुष्य को जीवन में आने वाली कठिनाइयों से लड़ने की शक्ति प्रदान करती है। इसके प्रभाव से आपको कार्य स्थल पर अपने वरिष्ठ सहकर्मियों और अधिकारियों के साथ तालमेल बनाकर चलने में मदद मिलेगी।
  4. शनिवार के दिन शनि मंदिर में तेल का दीया जलाने से भी नौकरी में आ रही परेशानियां दूर होती है। शनि मंत्र का जप करने से शनि से संबंधित दुष्प्रभाव कम होते हैं। शनि देव की कृपा से मिलने वाली सकारात्मक ऊर्जा से हमारी प्रोफेशनल लाइफ में एक नई ऊर्जा का संचार होता है।
  5. वे लोग जो व्यवसाय करते हैं उनके लिए व्यापार वृद्धि यंत्र एक वरदान है। इस यंत्र को अपने कार्य स्थल या ऑफिस में स्थापित करें। इस यंत्र के सकारात्मक प्रभाव से धन लाभ, संतुष्टि व आर्थिक हानि का संकट दूर होता है। साथ ही बिजनेस में पार्टनरशिप और व्यवसाय के विस्तार में मदद मिलती है।
  6. इसके अलावा फेंग शुई के सिद्धांतों के अनुसार उत्तरी दिशा करियर और प्रोफेशनल लाइफ में वृद्धि से संबंधित होती है अत: इससे संबंधित उपाय करने से कार्य क्षेत्र में उन्नति होती है। उत्तर दिशा जल, नीला, काला और बैंगनी रंग का प्रतिनिधित्व करती है। ऐसे में यदि उत्तर दिशा में पानी का कंटेनर, फुव्वारा, एक्वेरियम और विभिन्न रंगों की मछली व अन्य समुद्री जीव रखना, साथ ही उत्तर दिशा में दीवार पर नीला या काला चित्र लगाना प्रोफेशनल लाइफ के लिए बहुत ही लाभकारी होता है।

नौकरी में प्रमोशन के सरल उपाय:

शनि देव की आराधना करें

शनि देव हमारे कर्मों का फल देने वाले देव माने जाते हैं इसलिए नौकरी में प्रमोशन पाने वाले जातकों को शनिवार के दिन शनि देव की पूरे विधि-विधान से पूजा करनी चाहिए। ऐसा करने से उन्हें नौकरी में शीघ्र पदोन्नति प्राप्त होगी। शनि देव की आराधना करने की विधिः

  • प्रत्येक शनिवार को ब्रह्म मुहूर्त में उठें
  • इसके बाद सभी नित्य कर्मों से निवृत्त होकर स्नान करें
  • इसके बाद पूजा स्थल (घर, मंदिर) पर पूजन के लिए विशेष प्रबंध करें
  • अब पूरे विधि-विधान के साथ पूजा करें
  • तिल, तेल और छाया पात्र का दान करें
  • धतूरे की जड़ धारण करें
  • सात मुखी रुद्राक्ष धारण करें
  • शनि मंत्र का जाप करें- “ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनिश्चराय नमः”

 

सूर्य देव की पूजा करें

सूर्य को समस्त ग्रहों का राजा कहा जाता है। यह जातक की कुंडली में सम्मान, सफलता, प्रगति एवं उच्च पदों को प्रदर्शित करता है इसलिए नौकरी में प्रमोशन की कामना करने वाले जातकों को रविवार के दिन सूर्य की आराधना करनी चाहिए। इससे उनके राजयोग का निर्माण होगा। सूर्य की आराधना के लिए विधिः

  • सूर्योदय से पहले उठें और अपनी नग्न आँखों से उगते हुए सूरज का दर्शन करें
  • रोज़ाना सुबह-सुबह सूर्य को तांबे के पात्र से जल अर्पित करें
  • 12 मुखी रुद्राक्ष धारण करें
  • बेल मूल धारण करें
  • आदित्य हृदयम स्तोत्र का जाप करें
  • सूर्य यंत्र को विधि विधान से स्थापित करें
  • सूर्य बीज मंत्र का जाप करें- “ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः”

हनुमान जी की आराधना करें

वैदिक ज्योतिष के अनुसार यदि नौकरी-पेशा करने वाले जातकों को जॉब में प्रमोशन नहीं मिल रहा है अथवा उनकी तनख़्वाह में वृद्धि नहीं हो रही है तो उन्हें मंगलवार के दिन हनुमान जी की आराधना करना चाहिए।

  • मंगलवार को शुभ मुहूर्त में हनुमान जी का चित्र/प्रतिमा खरीदें
  • उस चित्र/प्रतिमा को घर लेकर आएँ
  • अब जिस दिशा में आप सिर रखकर सोते हैं ठीक उसके सामने वाली दीवार पर हनुमानजी का फोटो लगाएँ
  • प्रतिदिन उठने के तुरंत बाद बजरंग बली के दर्शन करें
  • मंगलवार अथवा शनिवार को हनुमान मंदिर में चमेली के तेल का दीपक जलाएँ
  • हनुमान चालीसा का जाप करें
  • मंगलवार के दिन हनुमान मंदिर में सिंदूर चढ़ाएँ
  • मंगलवार को बजरंग बाण का पाठ करें
  • यदि जातक विदेश में नौकरी पाना चाहते हैं तो हवा में उड़ते हुए हनुमान जी का चित्र अपने घर में ऐसे स्थान पर लगाएँ जहाँ आप उस चित्र को ज्यादा से ज्यादा देख सकें

गाय की सेवा करें

Feeding the cow

गौ माता की सेवा करने से जातकों की मन की मुराद पूर्ण होती है। अतः नौकरी करने वाले को रोज़ाना गौ माता की सेवा करनी चाहिए। इससे आपकी जॉब में उन्नति होगी। फलस्वरूप आपका प्रमोशन अथवा सैलरी में वृद्धि होगी और नौकरी न मिलने से परेशान जातकों को नई नौकरी भी प्राप्त होगी। गौ सेवा के उपायः-

  • ऑफिस के लिए घर से निकलते समय अपने साथ थोड़ा आटा व गुड़ लें
  • फिर जहाँ रास्ते में गाय दिखें उसे आटा और गुड़ खिलाएँ

पक्षियों को मिश्रित अनाज खिलाएँ

feeder-56eae6335f9b581f344e0d98

नौकरी या प्रमोशन की इच्छा रखने वाले जातकों को रोज़ाना पक्षियों को मिश्रित अनाज खिलाना चाहिए। नौकरी में रुकावटों, तरक्की अथवा मनवांछित स्थानांतरण पाने के लिए एक दम सरल व अचूक उपाय है।

  • सात प्रकार के अनाजों को एक साथ मिलाएँ
  • मिश्रित अनाजों में गेहूं, ज्वार, मक्का, बाजरा, चावल, दालें शामिल कर सकते हैं
  • अब रोज़ सबेरे इस मिश्रित अनाज़ को पक्षियों को खिलाएँ

 

Border Pic

Leave a Reply